हेल्थ और फिटनेस

एक गिलास गन्ने का जूस शरीर में तरावट के बीमारियों से करेगा रक्षा

भारत गन्ने के उत्पादन में ब्राजील के बाद दूसरे स्थान पर आता है। हम भारतीयों की खुशकिस्मती है कि हमारे देश में आपार गन्ना होता है। गन्ने में विटामिन और मिनिरल्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ऐसे में विटामिन से भरपूर गन्ने का रस तरावट के साथ ही आपकी सेहत को भी सुधारने का काम करेगा। आज हम आपको गन्ने के जूस की उन खासियतों के बारे में बताने जा रहें है जिससे जानने के बाद आप रोजाना इस जूस को अपनी जिंदगी में शामिल कर लेंगे।

सेहत से भरपूर गन्ने में कैल्शियम, क्रोमियम, कोबाल्ट, मैग्निशियम, मैगनीज, फॉस्फोरस, पोटैशियम, एंटी ऑक्सीडेंट और जिंक जैसे मिनिरल्स भरपूर मात्रा में पाएं जाते है और यह हमारे शरीर में प्रोटीन के लेवल को भी बढ़ाता है।  इस वजह से सर्दी, बुखार, संक्रमण जैसी आपसे  दूर ही रहती है। इसके साथ ही इसमें आयरन और विटामिन ए, सी, बी1, बी2, बी3, बी4, बी5 और बी6, प्रोटीन एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइबर भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

गन्ना शरीर में पानी की कमी को दूर करता है। इसके अंदर पाए जान वाले पोषक तत्व कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से आपको दूर रखते है। अगर आप हर रोज गन्ने का रस पीते हैं तो प्रोस्टेट और ब्रेस्ट कैंसर होने के चांसेज काफी कम रहते हैं। इतना ही नहीं गन्ना चेहरे की प्राकृतिक सुंदरता बढ़ाने के साथ आपके चेहरे पर मुहासे है को भी कम करता है। इसे पीने से त्वचा को अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड मिलता है। जिससे आपको मुहासें नहीं होते है।  अगर आपका मोटापा लगातार बढ़ रहा है तो गन्ने का जूस इससे भी छुटकारा दिलाता है। इसमें घुलनशील फाइबर होने के कारण वजन संतुलित रहता है। जिससे वजन नही बढ़ता।

गन्ने के जूस में पाएं जाने वाले कुछ तत्व आपके ब्‍लड ग्‍लूकोज लेवल को बैलेंस कर आपको डायबिटीज में आराम दिलाता है। गन्ने में भरपूर मात्रा पाया जाने वाला प्रोटीन किडनी में संक्रमण, युरीन इंफेक्शन, एसिडीटी जैसी समस्याओं को खत्म करता है। इसके साथ ही गन्ना धमनि‍यों में फैट नहीं जमता और दिल व शरीर के अंगों के बीच खून का बहाव अच्छा रहता है। सर्दी जुकाम और पाचनतंत्र की गड़बड़ी में भी गन्ने का जूद मददगार होता है।  इसका सेवन करने से पाचन के साथ-साथ कब्ज की भी समस्या से भी निजात मिल जाता है।

Please follow and like us: