वायरल

पीएम मोदी ने अभिजीत बनर्जी को सुनाया चुटकुला

नोबेल विजेता अभिजीत ने की पीएम से मुलाकात
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा अपनी बातो से लोगो का दिल जीत लेते है यही वजह है कि जो भी उनसे मिलता है उनसे प्रभावित हो जाता है।  वो गम्भीर मसले भी हंसी मजाक के साथ चुटकियों में निपटा देते है। ऐसा ही कुछ नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी  के साथ हुआ जब वह पीएम मोदी से मिलने पहुंचे।

दरसल अभिजीत बनर्जी मंगलवार को पीएम मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की। वैसे तो यह बैठक केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के बनर्जी के खिलाफ दिए गए बयान के हुयी बहस को लेकर थी लेकिन पीएम मोदी ने बातचीत की शुरूआत एक चुटकुले से शुरू और हंसी मजाक कर महौल हल्का कर दिया।

बैठक के बाद अभिजीत ने मीडिया से कहा कि  ‘प्रधानमंत्री ने चुटकुला सुनाकर बात की शुरुआत की और कहा कि मीडिया मुझे मोदी-विरोधी बातें कहने के लिए फंसाने की कोशिश कर रही है। वह टीवी देख रहे हैं, वह आपको भी देख रहे हैं।’ , वह सब जानते हैं कि आप क्या कराने की कोशिश कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा पीएम ने उनसें नौकरशाही और प्रशासन के मुद्दो पर बातचीत की। उन्होने कहा कि “प्रधानमंत्री से मिलना मेरे लिए सम्मान की बात है। प्रधानमंत्री की दयालुता है कि उन्होंने मुझसे इस बारे में बात की कि वह भारत और इसकी विशेषता को लेकर क्या सोचते हैं।”

वहीं दूसरी तरफ पीएम मोदी ने ट्वीटर पर मुलाकात के दौरान खींची गयी तस्वीर को पोस्ट करते हुए उनके खूब तारीफ की। उन्होने लिखा  “नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी से मुलाकात शानदार रही। मानव सशक्तिकरण को लेकर उनका जुनून साफ दिखता है। हमने कई मुद्दों पर स्वस्थ चर्चा की। भारत को उनकी उपलब्धियों पर गर्व है। उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं।”

मंत्री पीयूष गोयल ने उनकी सोच बताया था वामपंथी सोच
पीयूष गोयल ने बनर्जी को नोबेल सम्मान मिलने पर कहा था कि “एक भारतीय को अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार मिला है, इस पर उन्हें गर्व है। लेकिन उनके विचारों से सहमत नहीं हैं, क्योंकि उनकी सोच पूरी सोच वामपंथी झुकाव वाली है और भारत के लोगों ने उनकी सोच को पूरी तरह खारिज कर दिया है।” चर्चा है कि बनर्जी ने ही 2019 लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को ‘न्याय’ स्कीम (न्यूनतम आय) का आइडिया था। जिसको आधार बनाकर कांग्रेस चुनाव मैदान में उतरी थी।

Please follow and like us: