खेल

पाकिस्तान नहीं में नहीं होगा एशिया कप: बीसीसीआई

सभी टीमों ने एशिया कप के लिए तैयारियां तेज कर दी है। लेकिन ऐसे के तीन इंडिया मैदान पर अलग ही आक्रमक अंदाज़ दिखा रही है। न्यूज़ीलैंड से लगातार तीन मैच जीतने के बाद इंडिया टीम ने यह साबित कर दिया है कि एशिया वर्ल्ड कप के लिए उसने कमर कस ली है। वहीं इस बार पाकिस्तान से भारत को रिश्ते को लेकर BCCI ने एकदम साफ कर दिया है कि उसे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के एशिया कप की मेजबानी करने से कोई परेशानी नहीं है लेकिन भारतीय टीम पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगी।

बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने कहा, ‘सवाल यह नहीं है कि पीसीबी मेजबानी कर रही है। यह टूर्नामेंट के स्थल की बात है  अभी इस समय जैसी चीजें हैं, यह साफ है कि हमें तटस्थ स्थल चाहिए होंगे। ऐसी कोई संभावना नहीं है कि भारत मल्टी नेशन टूर्नामेंट में हिस्सा लेने भी पाकिस्तान जाए। अगर एशियाई क्रिकेट परिषद् (एसीसी) इस बात से खुश है कि एशिया कप बिना भारत के हो तो यह अलग बात है  लेकिन अगर भारत को एशिया कप का हिस्सा होना है तो यह जरूरी है कि टूर्नामेंट पाकिस्तान में न हो।’

आपको बता दे 2018 में एशिया कप भारत में होना था, लेकिन पाकिस्तानी खिलाड़ियों के वीजा की वजह से एशिया कप बीसीसीआई के मेजबानी में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में कराया गया था  इसी तरह पीसीबी भी यही कर सकती है। वही बीसीसीआई के अधिकार के अनुसार, ‘तटस्थ स्थल हमेशा से विकल्प रहते हैं। बीसीसीआई ने 2018 में यह किया था।’

हालांकि आपको बता देते है 2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम की बस पर आतंकवादियों ने हमला बोल दिया था, तब से आज तक लपाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं हुआ, लेकिन हाल ही में श्रीलंका ने पाकिस्तान का दौरा किया और अभी इस समय वो टीम बांग्लादेश दौरे पर है। लेकिन भारत और पाकिस्तान का मुद्दा इससे भी कुछ ज्यादा है। दोनों देशों के बीच राजनीतिक संबंधों के कारण यह स्थिति है कि भारत किसी भी सूरत में मौजूद हाल में पाकिस्तान का दौर नहीं कर सकता।

Please follow and like us: