धार्मिक

दीपक जलाते वक़्त बोले ये चमत्कारी मंत्र, होगी हर मनोकामना पूरी

कई बार लोगों की कुछ मुरादे पूरी नही होती है  जैसे अच्छा वर, बच्चो की कामना, सेहत, अच्छी नौकरी और तरक्की के लिए आ दिन रात भगवान से इसकी कामना करते है लेकिन भगवान आपसे प्रसन्न नही हो रहे हो तो बहगवां के आगे ये चमत्कारी दीपक जलाकर ये चमत्कारी मंत्र पढ़े आपसे भगवान जल्द प्रसन होकर आपकी मनोकामना की पूर्ति करेंगे। तो चलिए आपको बताते है। इस दीपक और चमत्कारी जाप का तरीका।

दीपक जलाएं बिना की गई पूजा असफल मानी जाती है। इसलिए आप जब भी पूजा करे या भगवान से प्रर्थना करें तो दीपक को जरूर जलाएं। लेकिन पूजा करते समय कभी भी खंडित दीपक का इस्तेमाल ना करें। हमेशा साफ और अच्छे दीपक का ही पूजा में इस्तेमाल करें। ध्यान रहे टूटे फूटे दीपक का इस्तेमाल न करे।  दीपक को हमेशा सही दिशा में रखें। गलत दिशा की और दीपक रखना अशुभ होता है। वहीं तेल का दीपक जलाने के लिए रुई की जगह मौली का इस्तेमाल करे।

वहीं ध्यान रखे कि अगर आप पूजा में घी का दीपक जलाते हैं तो इसे भगवान की प्रतिमा के ठीक सामने ही रखें। घी का दीपक जलाते समय केवल रूई की बत्ती का ही प्रयोग करें।  जब भी दीपक जलाएं तो इस मंत्र का जाप तीन बार करें-
शुभम करोति कल्याणं, आरोग्यं धन संपदाम्। शत्रु बुद्धि विनाशाय, दीपं ज्योति नमोस्तुते।।

दीपक को जलाते समय इस बात का ध्यान जरूर रखें की पूजा करने के कम से कम आधे घंटे बाद भी दीपक जलता रहे। इसी तरह से पूजा करने के दौरान भी दीपक ना बुझ। वहीं तुलसी की पूजा करते समय सिर्फ घी के दीपक का ही इस्तेमाल करें। घी के अलावा आप चाहे तो तिल के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आप चाहे तो दीपक की जगह धूप का इस्तेमाल कर सकते हैं। धूप जलाने से भी पूजा सफल हो जाती है।

इन नियमों का पालन का पालन करने से आपको पूजा-पाठ करने का फल जल्दी मिलता है और पूजा सफल होती है।

Please follow and like us: