अजब गजब

मरने के एक साल बाद 600 करोड़ रुपये का हुआ अंतिम संस्कार, जाने वजह

इस दुनियां अमीर गरीब कई तरह के इंसान होते है। यह अपने हर काम अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार करते है। शादी से लेकर मरने तक हर काम में पैसा का खर्चा होता है ऐसे में अगर इंसान के पास पैसा होता है तो वह चाहे शादी हो या अंतिम संस्कार हो हर चीज़ में पैसा खर्च होता है। लेकिन क्या किसी के अंतिम संस्कार में करोड़ रुपये खर्च होते है। वह भी एक दो नहीं बल्कि 600 करोड़ रुपये इस शख्स के अंतिम संस्कार में खर्च हुए थे। एक साल बाद हुआ था अंतिम संस्कार

दरअसल यह अंतिम संस्कार थाईलैंड के राजा भूमिबोल अदूल्यादेज का हुआ था। इनकी मौत 13 अक्टूबर, 2016 को हुई थी, लेकिन अंतिम संस्कार एक साल के बाद किया गया था। दरअसल राजा की मौत के बाद देश की प्रजा ने एक साल का राष्ट्रीय शोक मनाया। इस दौरान उनके अंतिम संस्कार की तैयारियां हुई। इनके अंतिम संस्कार के लिए सोने जैसे चमकते 185 फुट ऊंचे श्मशान बनाया गया, जिसमें करीब 600 करोड़ रुपये खर्च हुए थे। इसपर राजा का अंतिम संस्कार किया गया।

राजा के अंतिम संस्कार के लिए 500 मूर्तियां बनवाई गई थीं और बौद्ध परंपरा के अनुसार राजा का शव सोने के रथ पर रखकर श्मशान तक ले जाया गया था। महल से श्मशान तक की दो किलोमीटर की दूरी तीन घंटे में पूरी हुई थी। साथ ही उन्हें तोपों की सलामी भी दी गई थी। राजा भूमिबोल अदूल्यादेज का अंतिम संस्कार दुनिया का सबसे महंगा अंतिम संस्कार था।  राजा भूमिबोल 200 साल पुराने चकरी राजवंश के नौवें राजा थे। उन्हें ‘राम नवम’ के रूप में भी जाना जाता था। थाईलैंड के लोग उन्हें भगवान राम का वंशज मानते थे।

Please follow and like us: