खेल

इस साल दुनिया को मिला नया वर्ल्डकप चैम्पियन, इग्लैंड ने वर्ल्डकप ट्राफी पर कब्जा जमाया

Year Ender: टीम इण्डिया को नहीं मिला इस साल वर्ल्ड कप, खाली हाथ लौटा इण्डिया

अपने देश के लिए वर्ल्डकप लाना हर क्रिकेटर और क्रिकेट टीम का सपना होता है। लेकिन भारत का यह सपना टूटा गया। वर्ल्डकप 2019 सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने इण्डियां को मात देकर फाइनल में अपनी दावेदारी ठोकी तो वहीं फाइनल में इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को हाराकर पहली बार विश्वकप पर कब्जा जमाया अब भारत को तीसरा वर्ल्ड लाने के लिए अब भारत को 2023 का इंतजार करना पड़ेगा।

टीम इंडिया को इस वर्ल्ड कप का सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा था, लेकिन भारतीय टीम का सफर न्यूजीलैंड ने सेमीफाइनल में ही खत्म कर दिया। इस वर्ल्ड कप में दुनिया को नया वर्ल्ड चैम्पियन मिला।  इंग्लैंड ने पहली बार वर्ल्ड कप की ट्रॉफी पर कब्जा जमाया, वो भी उस न्यूजीलैंड की टीम को मात देकर जिसने भारत को टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखाया।

विराट कोहली को भारतीय क्रिकेट टीम की कमान पूरी तरह से से 2014 में मिली।  महेंद्र सिंह धोनी के टेस्ट टीम से कप्तानी छोड़ने के बाद कोहली को कप्तानी की जिम्मेदारी दी गई। जनवरी 2017 में धोनी ने सीमित ओवरों के फॉर्मेट से अपनी कप्तानी छोड़ दी, जिसके बाद कोहली को वनडे और टी-20 की भी कमान सौंपी गई। कोहली अपनी कप्तानी में आईसीसी के 2 बड़े टूर्नामेंट में भारत की अगुवाई की, लेकिन किसी में भी वह जीत नहीं दिला पाए. आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी-2017 में टीम इंडिया फाइनल में हारी तो वर्ल्ड कप-2019 में उसे सेमीफाइनल से बाहर होना पड़ा।

वर्ल्ड कप-2019 में सेमीफाइनल में महेंद्र सिंह धोनी न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में रन आउट हो गए, जिसके बाद ही भारत की उम्मीदों पर पानी फिर गया था। और वर्ल्डकप 2019 का सपना टूट गया। तो वही सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम इंडिया के टॉप-3 बल्लेबाजों ने बेहद घटिया प्रदर्शन किया। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा, केएल राहुल और विराट कोहली मात्र 1-1 रन बनाकर आउट हो गए। वनडे इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब किसी टीम के टॉप-3 बल्लेबाज 1 रन के निजी स्कोर पर आउट हुए हों। भारतीय टीम ने 5 रन के स्कोर पर 3 विकेट खो दिए थे।

 

Please follow and like us:
Pin Share