हिंदी समाचार

क्रैश टेस्ट में टाटा की कार ने WagonR और Santro को पिछड़ा

Tata की कार SUV नेक्सॉन इकलौती पांच सितारा बनी कार, WagonR और Santro को मिले सिर्फ 2 स्टार

भारत की सड़कों पर दौड़ने वाली कार यात्रियों के लिए कितनी सुरक्षित है।इसका जायजा लेने के लिए Global NCAP की ओर से ‘सेफ कार फॉर इंडिया’ कैम्पेन के तहत किए गए क्रैश टेस्ट के लेटेस्ट राउंड के रिजल्ट जारी कर दिए गए है।

इस टेस्ट में  मारुति WagonR, मारुति Ertiga, Hyundai Santro और Datsun Redigo को जैसी बेस्ट कारो को शामिल किया गया था। हैरान करने वाले आकड़े यह है कि यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस क्रैश टेस्टिंग में इन चारों कारों में से कोई भी कार 5 स्टार रेटिंग में जगह नही बना पाई वही टाटा की एक मात्रा SUV नेक्सॉन भारत की इकलौती पांच सितारा कार बनी इस कार को टॉप स्कोर यानी 5-स्टार मिला है। भारत में कारों में एबीएस, सीट-बेल्ट रिमाइंडर, स्पीड अलर्ट सिस्टम और ड्राइवर साइड एयरबैग होना जरूरी है। यह पहला क्रैश टेस्ट है। आगे आपको बताते है किस कार ने कितने स्टार हासिल किए।

मारुति वैगनआर
मारुति की सबसे पापुलर  WagonR को यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज से कम आंका गया।  क्रैश टेस्ट में अडल्ट प्रोटेक्शन के लिए इसको महज 2 स्टार की रेटिंग मिली।
Global NCAP के मुताबिक वैगनआर में ड्राइवर और को-पैसेंजर के सिर और गर्दन की सुरक्षा पर्याप्त, जबकि चेस्ट की सुरक्षा कमजोर और घुटने की सुरक्षा मामूली पाई गई। वैगनआर को चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिए भी 2 स्टार रेटिंग मिली है।
हुंडई Santro
Hyundai की नई सैंट्रो को भी क्रैश टेस्ट में सिर्फ 2 स्टार की रेटिंग मिली। टेस्टिंग के दौरान इस कार में फ्रंट अडल्ट पैसेंजर्स के लिए सिर और गर्दन की सुरक्षा तो अच्छी थी, लेकिन ड्राइवर के लिए चेस्ट की सुरक्षा कमजोर और को-पैसेंजर के लिए मामूली पाई गई। इस कार को भी चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिए भी 2 स्टार दिए गए।
मारुति अर्टिगा
वहीं मारुति की अर्टिगा क्रैश टेस्ट के लेटेस्ट राउंड में सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाली कार साबित हुई।इसे अडल्ट प्रोटेक्शन के लिए टेस्टिंग में 3 स्टार दिए गए।  Global NCAP की मानें तो इसमें सिर और गर्दन की सुरक्षा अच्छी और ड्राइवर की चेस्ट की सुरक्षा मामूली थी। चाइल्ड प्रोटेक्शन टेस्ट में भी अर्टिगा को 3 स्टार हासिल हुए।
Datsun Redigo
इस सीरीज में अगर सबसे फिसड्डी कार की बाद करे तो
क्रैश टेस्टिंग के मोर्चे पर दैटसन रेडीगो है। इस कार को  एक स्टार मिला। यह कार ग्लोबल एनसीएपी की अडल्ट प्रोटेक्शन में पूरी तरह से खरी नहीं उतरी, टेस्टिंग के दौरान सामने की सीट वाले अडल्ट पैसेंजर्स के लिए सिर और गर्दन की सुरक्षा ठीक है, लेकिन ड्राइवर की चेस्ट की सुरक्षा कमजोर है। वहीं, चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिए इस कार को 2 स्टार मिले।
Please follow and like us:
Pin Share