बॉलीवुड

तापसी पन्नू: दुनिया को सीख देने वाले बॉलीवुड में भी चलता है महिला पुरुष में भेदभाव, मिलती है आधे से भी कम फीस

पुरुषों को मिलता है महिलाओं से दोगुना वेतन

बॉलीवुड ने तमाम ऐसी फिल्में बनाई गई जिसमें महिला और पुरुष को एक समान अधिकार की सीख दी गई। कई लोगों ने बॉलीवुड को  देखकर अपनी लड़कियो को पढ़ाना लिखाना शुरु किया लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की जनता को सीख देने वाला यह बॉलीवुड महिला और पुरुषो में खुद भेदभाव करता है। इस बात का खुलासा बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया में कही।

बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने अभी हाल ही महिला प्रधान फिल्म  सांड की आंख में काम कर लोगों को चौका  दिया। महिलाओ पर कई सवाल करती इस फिल्म ने जनता को खूब प्रभावित किया, खासकर महिला वर्ग को इस फिल्म ने हमें एक बेहतर संदेश दिया लेकिन एक्ट्रेस तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने शनिवार को लोगों को यह कर चौका दिया कि बॉलीवुड में महिला पुरुष के नाम पर भेदभाव किया जात है। उन्होने दावा किया बॉलीवुड में पुरुष और महिला कलाकारों को एक समान भुगतान करने दिशा में अभी एक लंबा रास्ता तय करना है। गोवा में चल रहे इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया (आईएफएफआई) के 50वें संस्करण में इंट्रैक्टिव सेशन के दौरान तापसी ने कहा, “हमें काफी लंबा रास्ता तय करना है।


तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने कहा, बॉलीवुड में अभिनेत्रियों को जितना भुगतान किया जाता है, वह ‘फिल्म के प्रमुख अभिनेता को किए जाने वाले भुगतान का आधा भी नहीं होता है।’ अभिनेत्री ने आगे कहा, ‘कई बार तो भुगतान की जाने वाली रकम एक चौथाई के बराबर भी नहीं होता है’, ईमानदारी से कहूं तो उससे भी कम होता है। प्रमुख हीरो की आधी तनख्वाह ए लिस्ट की अभिनेत्रियों की महिला प्रधान फिल्मों का पूरा बजट होता है। तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने आगे कहा, “मुझे आशा है कि मेरे जीवित रहते इसमें बदलाव आएगा. ऐसा तभी होगा जब लोग महिला प्रधान फिल्मों को थियेटर में देखने जाएंगे. सिर्फ बॉक्स ऑफिस ही इसे बदल सकता है।

Please follow and like us:
Pin Share