खेल

सचिन को नहीं भाया चार दिन के टेस्ट मैच का विचार, जताया विरोध

पांच की जगह चार दिन का टेस्ट मैच करने का विचार बहुत सारे क्रिकेटर्स पसंद नहीं आ  रहा है। इसलिए इसपर कई क्रिकेटर अपना विरोध दर्ज करा रहे है। अब इसमें क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का भी नाम जुड़ गया है। उनको टेस्ट मैच चार का करने का विचार अच्छा नहीं लगा और उन्होने इस अपना विरोध दर्ज कराया है।

सचिन तेंदुलकर भारत के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी में से एक है। उन्हें प्रसिद्धि ऐसी है कि लोग उन्हें क्रिकेट का भगवान कहकर बुलाते है। उन्होनें आइसीसी के पांच दिन की जगह चार दिन के टेस्ट विचार को सिरे से नकार दिया है। इससे पहले कप्तान विराट कोहली भी इस अपना विरोध दर्ज करा चुके है।  सचिन का विचार है कि टेस्ट में पांचवें दिन स्पिनरों का बोलबाला रहता है और वे हालात का फायदा उठाकर अपनी टीम के लिए योगदान देते हैं, लेकिन आइसीसी का यह विचार उनका यह हक छीन लेगा।

सचिन ने कहा कि ’स्पिनर पुरानी हो चुकी गेंद और टूटी हुई विकेट का फायदा उठाकर पांचवें दिन कमाल करते हैं। यह सब टेस्ट क्रिकेट का हिस्सा है। ऐसे में क्या यह उचित होगा कि स्पिनरों का यह हक उनसे छीना जाए” उन्होने कहा ‘आज टी-20 हो रहे हैं। वनडे हो रहे हैं और अब तो टी-10 भी होने लगे हैं। ऐसे में क्रिकेट के सबसे विशुद्ध प्रारूप के साथ छेड़छाड़ जायज नहीं है। इसकी कोई जरूरत नहीं है। टेस्ट से एक दिन कम करने से इस खेल को लोकप्रिय नहीं बनाया जा सकता। इसकी जगह आइसीसी को पिचों की गुणवत्ता पर ध्यान देना चाहिए।’

इससे पहले विराट कोहली ने शनिवार को कहा था कि ‘वह आइसीसी के चार दिन के टेस्ट मैच के पक्ष में नहीं हैं क्योंकि उनका मानना है कि यह खेल के सबसे शुद्ध प्रारूप के साथ न्याय नहीं होगा। टेस्ट क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए डे-नाइट टेस्ट बहुत है क्योंकि इसके माध्यम से टेस्ट क्रिकेट का व्यापक बाजारीकरण किया जा सकता है। उनके अलावा ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्ग्रा, नाथन लियोन, दक्षिण अफ्रीका के वर्नोन फिलेंडर भी इसकी खिलाफत कर चुके हैं।’

वहीं ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज रिकी पोंटिंग ने भी आइसीसी के चार दिवसीय टेस्ट मैच के विचार का विरोध किया और कहा कि वह इस तरह के बदलाव के पक्ष में नहीं हैं। पोंटिंग ने कहा कि ‘मैं इसके खिलाफ हूं, लेकिन जिन लोगों के दिमाग में यह विचार आया मैं उनसे जानना चाहूंगा कि इसके पीछे प्रमुख कारण क्या है।’

Please follow and like us:
Pin Share