सेलिब्रिटी

लाखों रुपये फीस लेने वाले मीका सिंह 50 हजार देखकर हो गए थे पागल

बौखलाहट में बेड की जगह उठा लाएं थे गद्दे,  नहीं पता था दोनों में फर्क

अपने रैपर और रिमिक्स अन्दाज़ के लिए पहचाने जाने वाले मीका सिंह को आज कौन नहीं जानता। उनके गाने शादी और पार्टीज और होटलो की शान होते है। इनके गानो पर लोग जमकर ठुमके लगाते हुए नज़र आते है। इतने बड़े स्टार होने के नाते आज इंडस्ट्री में यह काफी मोटी फीस लेते है। लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब मीका सिंह को पहली फीस पचास हज़ार मिली थी तो वह इन पैसों को देखकर बौखला गए थे। उनको समझ नहीं आ  रहा था वह इन पैसों का क्या करें। इस बात का खुलासा मीका सिंह ने एक इंटरव्यू के दौरान किया। इसके साथ ही उन्होने अपने करियर से जुड़ी कई राज से पर्दा उठाया तो चलिए हमको बताते है इनकी करियर से जुड़ी यह बातें।


मीका सिंह ने बताया कि वह सिंगर नहीं म्यूजिक कंपोज करना चाहते थे, लेकिन किसी से काम नहीं मिलने की वजह से उन्होने सिंगिंग शुरू कर दी। मीका सिंह ने बताया, ‘मैं 1995 में गिटार बजाता था और मुझे सिंगर बनने का कोई शौंक नहीं था मैं सिर्फ म्यूजिक डायरेक्टर बनना चाहता था। 1998 में मैं सोच रहा था कि कोई मुझे बतौर म्यूजिक डायरेक्टर ले ले। गाना सावन में लग गई आग खुद ही लिखा और कंपोज कर दिया।’ बॉलीवुड सिंगर ने कहा, ‘गाना मैंने जब दिलेर पाजी को सुनाया तो उन्होंने कहा आवाज ठीक नहीं है। मैंने कहा अनु मलिक से तो बेहतर ही है। शो आने लगे जहां मैं पांच सौ रुपये गिटार बजाने का लेता था अचानक मुझे पचास हजार रुपये मिलने लगे। तीन साल रियाज करने के बाद मैं वापस आया।’

उन्होंने कहा, ‘पहले मैं शो में पांच सौ रुपये लेता था। दिलेर पाजी के साथ गिटार बजाता था। गाना तुक्के से हिट हो गया और पहले शो का मिला पचास हजार। अब जिस आदमी को पांच सौ रुपये मिलता हो उसे अगले दिन पचास हजार मिल जाए वो क्या करेगा? पागल ही हो जाएगा।’


मीका ने बताया, ‘अब समझ नहीं आ रहा था कि क्या करें तो हमने किराए पर घर ले लिया क्योंकि स्टार बन रहे थे। पूरा घर खाली न उसमें बेड था न फर्नीचर, फिर कभी गद्दे ले आए तो कभी वॉशिंग मशीन। अशोक मस्ती दिवाली में आए तो उनकी वाइफ ने कहा गद्दे पर लेटते हो तो मैंने उनसे पूछा क्या होना चाहिए? तो फिर उन्होंने बताया बेड होना चाहिए।’

Please follow and like us:
Pin Share