अजब गजब

यहां सरेआम लगती है दुल्हन की बोली, सच्चाई जान दिल दुःख जायेगा

अपनी दिनचर्या चलाने के लिए लोगों को कुछ न कुछ करना पड़ता है, ऐसे में कोई टीचर बनता है तो कोई नौकरी कर अपना घर और जीवन चलाता है लेकिन यहां हम एक बहुत अजीब प्रथा के बारे में बताने जा रहे है जहां महिलाओं को उसके घर वाले ही देहव्यापार करने के लिए मजबूर कर देते है।

यह मामला दिल्ली का है जहां शादी के कुछ सालो के बाद महिलाओं को इस धंधे में घसीटा जाता है जिसमें इनके घरवाले इस काम को करने लिए मजबूर करते है। दिल्ली से सटे कुछ इलाकों में एक ऐसी कम्युनिटी का है जिसमें घर वाले ही महिलाओं से ऐसा काम कराते है।

धरमपुरा सहित कई इलाकों में रहने वाली परना कम्युनिटी में यह अजीबोगरीब ‘परंपरा’ कई वर्षो से चली आ रही है।  इस कम्युनिटी में कुछ ऐसी महिलाएं हैं जिन्होंने और कोई काम नहीं मिलने पर खुद ही सेक्स वर्कर बनने का फैसला लिया। ऐसी ही एक महिला कहती है कि यह काम करने के बाद उनकी जिंदगी बदली है और उसने अपने बच्चों को पढ़ाना भी शुरू कर दिया है। कुछ संस्थाएं भी इन महिलाओं के हक के लिए आवाज उठा रही हैं और कुछ महिलाओं को मदद भी पहुंचा रही हैं।

पैसिफिक स्टैंडर्ड की रिपोर्ट में एक महिला रानी की कहानी शामिल की गई है। परना कम्युनिटी की रानी हर दिन 2 बजे घर से प्रॉस्टिट्यूशन के लिए रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड के पास निकलती है। सुबह 7 बजे वापस आती है और फिर घर का सारा काम उसे ही करना पड़ता है। 17 साल की उम्र में उसकी शादी हुई थी। पति की वह दूसरी पत्नी थी। शादी के दो साल बाद उसे प्रॉस्टिट्यूट बनना पड़ा। रानी कहती है- मैं जानती थी ये होगा। यह बहुत सामान्य बात है। मैं फैमिली चलाने के लिए यह करती हूं।

Please follow and like us:
Pin Share