अजब गजब

खूंखार डकैत की पकड़ने के लिए पुलिस ने दिलाया शादी का भरोसा

अपने अक्सर फिल्मो में पुलिस को नाटक करते देखा होगा। लेकिन ऐसे नाटक कभी असल जिंदगी में भी हो सकते है ऐसा तो कोई सोच भी नही सकता है। पुलिस की मार  सुनते ही अच्छे अच्छे अपनी पतलून गीली कर देते है। लेकिन यहां तो मामला ही कुछ और है यहां पुलिस ने एक खूँखार डकैत को पकड़ने के लिए ना मार पीट की, ना ही गोली बंदूकों का सहारा लिया। उसने एक तरकीब से बड़ी आसानी से खूँखार डकैत को पकड़ लिया। आप भी जाने यह अनोखा तरीका

दरअसल मध्यप्रदेश के छतरपुर के नौगांव ब्लॉक में एक वांछित खूंखार डकैत को पकड़ने के लिए पुलिस ने डकैत को दुल्हन दिलाने का लालच दिया गया। एक महिला पुलिस अधिकारी ने फर्जी विवाह की पेशकश कर डकैत के लिए दुल्हन ढूंढना शुरू कर दिया। दुल्हन की लालच डकैत के लिए भारी पड़ गया। और फर्जी विवाह ले चक्कर मे पड़ कर वो गिरफ्तार हो गया। गिरफ्तारी के बाद से लोग महिला पुलिस अधिकारी और विभाग के आइडिया की तारीफ कर रहे हैं। मध्यप्रदेश पुलिस के लिए तीन सालों से भी अधिक समय से सिरदर्द रहे बालकिशन चौबे (55) की नाटकीय ढंग से हुई गिरफ्तारी ने सभी को चौंका दिया। बालकिशन गिरोह के डाकू छतरपुर के खजुराहो इलाके में ग्रामीणों को लूटते थे।


बालकिशन के खिलाफ हत्या और लूट के कई मामले दर्ज हैं, वह अपराध करने के बाद उत्तर प्रदेश में जाकर छिप जाता था। उसने छिपने से पहले अपने कुछ परिचितों को उसके लिए दुल्हन ढूंढने को कहा था। छतरपुर नौगांव ब्लॉक के गैरोली चौकी की प्रभारी पुलिस उप-निरीक्षक माधवी अग्निहोत्री को उसे पकड़ने की जिम्मेदारी सौंपी गई। 30 वर्षीय माधवी ने अपनी एक पुरानी तस्वीर बालकिशन चौबे को मुखबिरों के माध्यम से वैवाहिक प्रस्ताव के साथ भेज दी। जब वो शादी के लिए बात करने आया तो उसे पुलिस टीम ने काबू कर लिया।

Please follow and like us:
Pin Share