हिंदी समाचार

Chandra Grahan 2020: आज पड़ेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, तैयार हो जाएं आप

इस साल 2020 साल का पहला चंद्र ग्रहण आज पड़ेगा, यह चंद्र ग्रहण आज रात को 10 बजकर 37 मिनट शुरु होगा और 11 जनवरी को सुबह 2 बजकर 42 मिनट तक चलेगा। चंद्र ग्रहण को लेकर लोगों में काफी अंधविश्वास है जिसकी वजह से लोग काफी गलतफहमियां पाल लेते है। तो चलिए इस आर्टिकल में हम आपको ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहे है। जो आपकी इन गलतफहमियों को खत्म करेगा।

चंद्रगहण में चन्द्रमा और सूर्य के बीच में धरती आ जाती है और धरती की पूर्ण या आंशिक छाया चांद पर पड़ती है।लेकिन सूर्यग्रहण में हमें सूर्य का आधा हिस्सा या फिर पूरा हिस्सा हमें दिखाई नहीं देता जबकी चंद्रग्रहण होने पर भी हमें चारं आंशिक रुप से दिखाई देता है। चंद्रग्रहण उस समय ही होता है, जब आसमान में पूरा चांद निकलता है। पृथ्वी के चांद और सूरज के बीच में आने की वजह से किरणें ब्लॉक हो जाती है और पृथ्वी की किरणें जब चांद पर पड़ती है, तो रात में ऐसा प्रतीत होता है कि चांद ढक सा या फिर छुप सा गया है।

कुछ अंधविश्वास के चलते लोगों में यह भ्रम है कि सूर्यग्रहण को सीधे तौर पर देखने से लोगो के आंखो की रोशनी चली जाती है। लेकिन चंद्रग्रहण में यह समस्या नहीं होती। जबकी ऐसा कुछ भी नहीं है। नंगी आंखों से सूर्यग्रहण देखना बेहद सुरक्षित है। लेकिन ग्रहण का साफ दृश्य देखने के लिए टेलीस्कॉप का इस्तेमाल करें।

वहीं चन्दमा का पृथवी और सूर्य के बीच आने से सूर्य ग्रहण होता है।  इससे पृ्थ्वी पर रहने वाले लोगों को सूर्य का आधा भाग नहीं दिखाई देता है। जबकि चंद्रग्रहण तब होता है जब पृथ्वी चांद और सूरज के बीच में आ जाती है। यह ग्रहण की प्रकार की बात की जाएं तो केवल तो तरह के ग्रहण होते है जिसमे चंद्रग्रहण और सूर्यग्रहण है। लेकिन चंद्रग्रहण और सूर्यग्रहण पूर्ण या आंशिक हो सकते हैं।

Please follow and like us:
Pin Share