अजब गजब

कॉलेज से बॉयफ्रेंड के साथ निकली युवती ने गढ़ी अपहरण की कहानी

मां बाप बच्चों को स्कूल कॉलेज भेजते है जहां बच्चों को अच्छी तरबियत मिले।  वह पढ़ लिखकर आगे बढ़ सके। बच्चों के साथ मां बाप की जिम्मेदारी उनके बड़े होने पर बढ़ जाती है। आपका बच्चा बच्ची पढ़ लिखकर कॉलेज जाता है। ऐसे में जरुरी है कि आपके बच्चे कहां जा रहें है। किससे मिल रहें क्या कर रहें इन सब चीजों का पता रखना। बच्चों पर ध्यान न दे पाना या फिर लापरवाही करना कभी कभी बहुत भारी पड़ जाता है। वहीं कई बार बच्चे दोस्तों के साथ घुमने फिरने के लिए मां बाप से कभी कभी ग्रुप स्टडी या फिर छोटे मोटे बहाने बनाकर मौज मस्ती करते है। लेकिन इस लड़की तो अपने अपहरण का ऐसा झूठ बोला कि इसको ढुढ़ने वाले पुलिस भी हैरान रह गई।

दरअसल  नागपुर में रहने वाली एक महिला ने अपने ही अपहरण की मनगढ़ंत झूठी कहानी रचकर पुलिस को खूब गुमराह किया। जब मामले की जांच की गई तो पता चला कि प्रेमी के साथ घूमने की बात छिपाने के लिए और घर वालों को गुमराह करने के लिए 21 वर्षीय युवती ने अपने अपहरण की झूठी कहानी गढ़ी थी। गिट्टीखदान पुलिस थाने के निरीक्षक के सुनील गांगुर्दे ने बताया कि लड़की ने अपने परिवार वालों के साथ सोमवार रात आठ बजे अपने अपहण की शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने शिकायत के हवाले से कहा कि उनके माता-पिता ने आरोप लगाया था कि कॉलेज से आते समय उनकी बेटी को चार पुरुष जबरदस्ती चार पहिया वाहन में बैठा एक वीरान जगह ले गए, लेकिन वह किसी तरह से वहां से भाग निकली।

इसके बाद पुलिस तुरन्त लड़की को उस जगह पर ले गई जहां उसने खुद को ले जाए जाने की बात कही थी। नागपुर अपराधा शाखा की टीम भी वहां पहुंची और जांच शुरू की गई। हालांकि पुलिस को लड़की के विरोधाभासी बयानों पर संदेह हुआ। गांगुर्दे ने बताया कि तब पुलिस ने कॉलेज के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की और लड़की को एक युवक के साथ मोटरसाइकिल पर जाता पाया। उन्होंने बताया कि महिला से उसके परिवार के सामने इस पर पूछे जाने पर उसने अपहरण की झूठी कहानी रची थी।

Please follow and like us:
Pin Share