खेल

एशिया इलेवन: पाकिस्तान और भारत को एक साथ एक टीम में आना मुश्किल

पाकिस्तान और भारत का मैच जब होता है तो लोग टीवी से चिपक कर बैठ जाते है। खेल प्रेमी हमेशा भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले मैचो का बेसब्री से किया करते है। तो जब भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ियो को एक टीम एक साथ खेलने का अवसर मिलता तो यह क्रिकेट के इतिहास में शायद स्वर्ण अक्षरों से लिखा जाता लेकिन भारत और पाकिस्तान का एक ही टीम का एक साथ खेलने जैसे हालात अभी तक नहीं बन पा रहे है।  अंतरराष्ट्रीय मैच एशिया इलेवन में पाकिस्तान के खिलाड़ियों को शामिल न करने  का फैसला बीसीसीआई ने लिया है।

दरअसल बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) मार्च में एशिया और वर्ल्ड इलेवन के बीच दो मैचों की मेजबानी करने जा रहा है। जो बांग्लादेश के राष्ट्रपिता शेख मुजीब-उर-रहमान की जयंती के अवसर पर खेला जाएगा। आईसीसी ने इन्हें अंतरराष्ट्रीय मैचों का दर्जा दिया है। एशिया इलेवन की टीम में पांच भारतीय खिलाड़ी होंगे। लेकिन, बीसीसीआई ने साफतौर पर कह दिया है कि एशिया इलेवन की टीम में कोई पाकिस्तानी प्लेयर नहीं होना चाहिए। यह मैच 18 और 21 मार्च 2020 को मीरपुर में खेले जाएंगे।

बीसीसीआई के संयुक्त सचिव जयेश जॉर्ज ने कहा- ऐसे हालात नहीं बनेंगे जहां भारत और पाकिस्तान के क्रिकेट प्लेयर एक साथ एक टीम में खेलें। क्योंकि, एशिया इलेवन में किसी पाकिस्तानी खिलाड़ी को शामिल नहीं किया जाएगा। जॉर्ज के मुताबिक, “हम ये तय करेंगे कि एशिया इलेवन में कोई पाकिस्तानी प्लेयर न हो। सौरव गांगुली उन खिलाड़ियों के नाम फाइनल करेंगे जो एशिया इलेवन से खेलेंगे।”

श्रीलंकाई टीम के हालिया पाकिस्तान दौरे के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन एहसान मनी ने भारत के मुकाबले पाकिस्तान को ज्यादा महफूज मुल्क बताया था। जवाब में बीसीसीआई ने के उपाध्यक्ष महिम वर्मा ने कहा- पाकिस्तान अपने गिरेबां में झांके। हमें अपने देश की रक्षा और अपने मुद्दे सुलझाना बखूबी आता है। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर राशिद लतीफ ने सौरव गांगुली के उस बयान पर तंज कसा जिसमें उन्होंने चार देशों की वनडे सीरीज हर साल कराने का सुझाव दिया था। राशिद ने कहा था- यह चार ताकतवर देशों को एक साथ लाने की कोशिश है और पूरी तरह फ्लॉप हो जाएगी।

Please follow and like us:
Pin Share